Riya Madam Ki Mast Chudai



mohitbajaj 2018-03-12 Comments

हेलो दोस्तों मेरा नाम मोहित है, मैं बरनाला पंजाब से हूँ, मेरे को सुरु से सेक्स स्टोरीज पड़ने का बहुत शोक है, इसलिए मेंने आज सोचा की मैं भी अपनी स्टोरी पेश करू.

सो इससलिए आपको आज अपनी स्टोरी बताने जा रहा हूँ की मैं कासे एक कॉल बॉय बना, जे मेरी एक स्टोरी है आगे बहुत सी स्टोरी है, बाद में वो भी बताऊ गा.

दोस्तों मेरी आयु २८ है, जे स्टोरी २०१० की है, जब मैं दिल्ली रहता था, उस टाइम मैं दिल्ली के एक इंस्टीटूट में स्टडी करता था, मेरे को कॉल बॉय बनने की बहुत इच्छा थी, और वो भगवन ने पूरी कर दी, जब मैं इंस्टिट्यूट मैं स्टडी करता था.

तो वहा साथ मैं बहुत सारे ऑफिस थे और साथ में एक ढाबा था, हम अक्सर लंच करने जाइए करते थे, वहां बहुत सारी लेडीज आया करती थी, और धीरे धीरे मेरी कई लेडीज के साथ हेल्लो हाय होने लगी. कुछ के साथ अच्छी बनने लगी, स्मोकिंग भी साथ में करने लगे.

वहां एक रिया नाम की शादीशुदा लड़की आइए करती थी, जिसकी उम्र ३५ की साथ थी, वो अक्सर जब आती मेरे को हेलो बोलती, और जूस आर्डर करने चली जाती थी.

मैं भी उसको हेलो बोलता था और धीरे धीरे मैं उससे बात करने लगा और मैं उसकी फॅमिली के बारे मैं पूछने लगा और मैंने अपने बारे में बताया, हम आपस मैं घुल मिल गये, हमने मोबाइल नो भी एक्सचेंज कर लिए, फिर व्ट्स-एप पर भी धीरे धीरे बाते होने लगी.

एक दिन जब मैं लंच करने ढाबे पर गया, तो वो साडी पहन कर आई, स्लीव लेस्स ब्लॉउस पहना हुआ था, बिलकुल काम-वासना देवी लग रही थी, मैं उसको देखता रहे गया और मेरा लोडा भी टाइट हो गया और मैं उसको देखता रहा..

बड़े बड़े बूब्स, नशीली आंखे, उसने बोला क्या हुआ? क्या देख रहे हो?

मैंने कहा रिया आज तुम बहुत सेक्सी लग रही हो, मैं उसके बूब्स को बार देख रहा था और मेरा लोडा भी टाइट था, ये बात उसने नोटिस कर ली थी.

फिर मैंने कहा रिया तुम बहुत सेक्सी हो, भगवन ने बड़ी फुर्सत से बनाया है तुम्हे, उसने कहा अच्छा जी इतनी अच्छी लग रही हूँ ? मैंने कहा हां.

फिर वो चली गई, मैंने भी अपना लंच ख़तम किया और चला गया, इंस्टिट्यूट में मेरे दिमाग में उसके बूब्स ही घूमते रहे, लोडा पूरा टाइट था, ये बात मेरी मैडम ने देख ली थी की मेरा लोडा टाइट है और मेरा हाथ अपने लोडा पर है.

क्लास ख़त्म होने के बाद मैं अपने पी-जी मैं चला गया, ७ बजे फोन आया रिया का, उसने पूछा कहा हो?, मैंने कहा मैं पी-जी में बोलो क्या हुआ?

फिर हमारी बाते होने लगी, फिर रिया ने पूछा आज इतना घूर घूर क क्या देख रहे थे?, मैंने कहा तुम आज मुझे बहुत अच्छी लग रही थी.

उसने कहा अच्छा जी? मैंने कहा हांजी मैंने सोचा की ग्रीन सिंग्नल है, ६ मार देता हूँ, फिर मैंने कहा मन कर रहा था की तुम्हे अपनी बहो में भर लू और तुम्हे ढेर सारा प्यार करू.

उसने कहा अच्छा जी!! मैंने कहा हा, रिया बोली आज मैं घर पर अकेली हूँ हस्बैंड बहार गए हुए है, २ दिन के लिए, मेरे साथ चलो, मेरे साथ टाइम भी दोनों का पास हो जायेगा, यह कहानी आप देसी कहानी डॉट नेट पर पढ़ रहे है.

मैंने कहा की तुम मुझे पंजाबी बाग़ से लेलो, उसने कहा ओके, उसने मुझे कहा की मैं अभी ऑफिस मैं से निक्ली हूँ, १५ मिंट मैं मिलती हूँ तुमको. मैंने कहा ओके.

सही १५ मिंट के बाद उसने मुझे वहां से पिक कर लिया और मैं उसके साथ उसके फ्लैट पर चला गया, फिर उसने मेरे को लॉबी मैं बैठने को कहा और चाय कॉफ़ी पूछा.

मैंने कहा जो तुम्हे पसंद है वो मैं ले लूगा, उसने कहा की मैं कॉफी बनाकर लाती हूँ, मैंने कहा ओके, फिर मैं उसके पीछे किचन में चला गया और मैंने पीछे जाकर उसे हग कर लिया.

मेरा लोडा उसकी गांड मैं घुस गया और मैंने अपने हाथो से उसके बूब्स को दबा दिए और वो पीछे मुड़ी, मैंने उसके लिप्स पर अपने लिप्स रख दिए और जोर से स्मूच करने लगा, वो भी मेरा साथ देने लगी.

मैंने उसे कहा लव यू, उसने कहां सेम टू यू, उसने कहा वेट सारी रात पड़ी है, आराम से फुल्ल एन्जॉय के साथ करेगे, फिर हमने साथ मैं कॉफी पी और वो फ्रेश होने चली गई.

मैंने भी अपने कपडे उतरे उसके पीछे उसके साथ बाथरूम मैं घुस गया, बाथरूम मैं जाकर मैंने उससे पीछे से हग कर लिया, फिर मैंने उसके सारे कपडे उतर दिए और मैंने उसको अपनी गोद मैं उठा लिया और हम दोनों के दिमाग मैं पूरा सेक्स चढ़ा हुआ था.

मेरा लोडा पूरा टाइट था और फिर मैंने जोर से हग किआ और उसके लिप्स को चूसने लगा और अपना एक हाथ से उसकी चूत पर फेरने लगा था, उसकी चूत पूरी गीली थी उसका हाथ मेरे लोडा पर था, वो मेरे लोडा को हिल्ला रही थी.

फिर मैंने शावर ऑन कर दिया और हम दोनों साथ मैं भीगने लगे, फिर हम दोनों का बदन पूरा पानी से भीग गया, जैसे जैसे पानी उसके बदन ऊपर गिर रहा था मैं अपनी जीभ से उसके पुरे बदन को चाटने लगा, उसको बहुत मजा आ रहा था.

Comments

Scroll To Top